61 साल से भारत में रह रहा पाक नागरिक गाजियाबाद से अरेस्ट

गाजियाबाद में एक पाकिस्तानी नागरिक की गिरफ्तारी का सनसनीखेज मामला सामने आया है. आरोपी नागरिक 1956 से भारत में रह रहा है. खुफिया जानकारी के बाद मंगलवार को गाजियाबाद पुलिस और लोकल इंवेस्टीगेशन यूनिट (एलआईयू) ने संयुक्त रुप से अभियान चलाकर पाकिस्तानी नागरिक को गिरफ्तार कर लिया.




गिरफ्त में आए पाकिस्तानी नागरिक का नाम यूनुस है. पुलिस के मुताबिक, यूनुस 1956 में अपने पिता के साथ भारत आया था. कुछ साल बाद यूनुस के पिता की मौत हो गई. जिसके बाद यूनुस गाजियाबाद के डासना में ही बस गया. पुलिस की मानें तो काफी वर्षों पहले ही यूनुस के वीजा की अवधि खत्म हो चुकी है और वह गैरकानूनी तरीके से भारत में रह रहा था.

वहीं आरोपी यूनुस का कहना है कि वह अपने पिता के पासपोर्ट पर भारत आया था. उसने कई बार अपना वीजा भी रिन्यू करवाया है लेकिन पिछले काफी वक्त से वह किसी कारणवश अपना वीजा रिन्यू नहीं करवा सका. बताते चलें कि आरोपी ने यहां रहकर जमीन खरीदी और राशन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड समेत कई दस्तावेज भी बनवाए.



पुलिस ने यूनुस के पास से वोटर आईडी कार्ड, राशन कार्ड समेत सभी दस्तावेज बरामद कर लिए हैं. खास बात यह है कि यूनुस ने अपने आसपास रहने वालों को इस बात की जरा भी भनक नहीं लगने दी कि वह पाकिस्तानी है. युनूय ने दिल्ली की एक लड़की से शादी की और गाजियाबाद के डासना में अपना घर बनाकर रहने लगा.

यूनुस के चार बच्चे (दो बेटे और दो बेटियां) भी हैं. बेटियों की शादी हो चुकी है. गाजियाबाद के एसपी (देहात) ओमप्रकाश ने बताया कि पुलिस जांच कर रही है कि यूनुस किन लोगों के संपर्क में है और उसने पहचान संबंधी दस्तावेज किसकी मदद से बनवाए हैं. एसपी ने बताया कि यूनुस के खिलाफ देश में अवैध तरीके से रहने , गलत दस्तावेजों पर पहचान पत्र बनवाने, अवैध तरीके से जमीन की खरीद-फरोख्त से जुड़ी धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है. उन्होंने कहा, इस संबंध में पाकिस्तानी दूतावास को भी जानकारी दे दी गई है.

loading...

Comments

comments