चिकनगुनिया से दिल्ली में मौते, सवाल उठे तो केजरी ने जर्नलिस्ट को क्या अनाथ सनाथ बक डाला

नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर में चिकनगुनिया-डेंगू और मलेरिया तेजी से फैल रहा है। दिल्ली में पहली बार चिकनगुनिया के अब तक 1000 से ज्यादा मामले सामने आए हैं। अबतक ती की मौत हुई है। इसे लेकर सवाल उठाए जाने पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल भड़क गए। उन्होंने एक जर्नलिस्ट को दलाल तक बता दिया। दिल्ली में चिकनगुनिया-डेंगू से ऐसे हो गए हैं हालात…
– इस बीमारी से तीनों मौतें सर गंगाराम हॉस्पिटल में हैं।
– गाजियाबाद में रहने वाले 65 साल के एक शख्स को क्रिटिकल कंडीशन में दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया, जहां चिकनगुनिया के कारण उसकी मौत हो गई।



– जानकारी के मुताबिक, चिकनगुनिया से दिल्ली में यह पहली मौत है। इस बार राजधानी में चिकनगुनिया के सबसे ज्यादा मामले देखे जा रहे हैं।
– दिल्ली में अब तक 1057 और डेंगू के 1158 मामलों की पुष्टि म्युनिसिपल काॅरपोरेशन ने की है। आॅल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस ने भी सांइस (एम्स) में 900 से ज्यादा चिकनगुनिया के मामले सामने आए हैं। वहीं, सफदरगंज में 532 और लोकनायक हॉस्पिटल में 281 मरीज भर्ती हैं।
– पिछले साल डेंगू के 15867 केस सामने आए थे। 60 की मौत हो गई थी ।
क्यों जर्नलिस्ट पर भड़के केजरीवाल?
– जाने-माने जर्नलिस्ट शेखर गुप्ता ने एक ट्वीट में कहा- “पांच साल में पहली बार मलेरिया दिल्ली में तेजी से फैल रहा है। पहली बार चिकनगुनिया से किसी शख्स की मौत हुई है। सरकार गोवा, पंजाब और यूपी जीतने में लगी हुई है।”
– इसी ट्वीट पर केजरीवाल भड़क गए। उन्होंने जवाब में ट्वीट किया- “राजनीति करनी है, खुल कर सामने आओ। पहले कांग्रेस की दलाली करते थे, अब मोदी की? ऐसे लोगों ने पत्रकारिता को गंदा किया।”



साउथ दिल्ली निगम में सबसे ज्यादा मामले
– आंकड़ों के मुताबिक, साउथ दिल्ली निगम इलाके में डेंगू के 543 मामले, नॉर्थ दिल्ली निगम में 307 मामले, ईस्ट दिल्ली निगम में 166 मामले, एनडीएमसी में 46 मामले, दिल्ली कैंट में 4 मामले और 92 अन्य मामले पाए गए हैं।
अब तक 10 हजार से ज्यादा लोगों का किया गया चालान
– डेंगू वाहक एडीज मच्छर की ब्रीडिंग रोकने के लिए राजधानी में अब तक 10508 का चालान किया जा चुका है। इसके अलावा, 105240 को नोटिस जारी हो चुका है। अब तक राजधानी के 121524 घरों में डेंगू वाहक एडीज मच्छर की ब्रीडिंग पाई जा चुकी है। ब्रीडिंग के सबसे ज्यादा 62423 मामले साउथ दिल्ली में पाए गए।

loading...

Comments

comments