संघ की शिक्षा से मुमकिन हो पाई सर्जिकल स्ट्राइक : मनोहर पर्रिकर

नई दिल्ली। सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देने के बाद अब रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने इसका श्रेय राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) को दिया है। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के पीछे कहीं न कहीं राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) की शिक्षा है। आरएसएस की शिक्षा की बदौलत ही यह हमला मुमकिन हो पाया। उन्होंने यह बयान डिफेंस मिनिस्ट्री और निरमा यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम ‘नो योर्स आर्मी’ (अपनी सेना को जानिए) में दिया।
रक्षा मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महात्मा गांधी की धरती से आते हैं और मैं गोवा से। इसीलिए शायद यह आरएसएस की बेसिक शिक्षा से ही सर्जिकल स्ट्राइक मुमकिन हो पाई। अहमदाबाद में तो कम से कम कोई नहीं पूछेगा कि प्रूफ दे दो। बता दें कि इससे पहले उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय पीएम मोदी के फैसले लेने की नीति को दिया था।
अब पर्रिकर बोले, संघ की शिक्षा से मुमकिन हो पाई सर्जिकल स्ट्राइक




वहीं, पर्रिकर ने बयान पर कांग्रेस ने पर्रिकर को घेरा है। कांग्रेस प्रवक्ता संजय झा ने दुर्भाग्यपूर्ण और खेदजनक बताया है। उन्होंने कहा है कि हम तो (कांग्रेस) हमेशा से ही ये कहते आए हैं कि मोदी सरकार के सबसे अहम निर्णय नागपुर में लिए जाते हैं। रक्षा मंत्री आज सार्वजनिक तौर से बता रहे हैं कि आरएसएस ही भारत की सरकार को चला रहा है, जहां पर मोदी कठपुतली की तरह हैं। जबकि संघ विचारक राकेश सिन्हा ने कहा कि आरएसएस से स्वयंसेवक प्रभावित होते हैं, संघ स्वयंसेवकों को अपने विचार से प्रभावित करता है।

गौरतलब है कि 28 सितंबर और 29 सितंबर की दरम्यानी रात को उरी आतंकी हमले के जवाब में भारतीय सेना ने पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था। इस ऑपरेशन में भारतीय सेना ने 50 से ज्यादा आतंकियों को मार गिराया था। हालांकि पाकिस्तान सरकार ने कई मौकों पर सर्जिकल स्ट्राइक का खंडन किया है।

अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगे या इस पोस्ट से सहमत है तो नीचे दिए गए Like बटन से , इस पोस्ट को लाइक करे । धन्यवाद