भारत और जापान ने मिलकर चीन को दिया झटका

0
273

भारत ने चीन की हर शाति‍र चाल का तोड़ नि‍काल लि‍या है, जि‍सकी वजह से उसकी बौखलाहट बढ़ती जा रही है। कारोबार में भारत को मात देने के लि‍ए चीन ने वन बेल्‍ट वन रोड का मेगा प्रोजेक्‍ट शुरू कि‍या, जि‍सकी काट के तौर पर भारत और जापान ने एशि‍या अफ्रीका ग्रोथ कॉरि‍डोर (AAGC) पर काम शुरू कर दि‍या है। भारत और जापान चीन के मेगा प्रोजेक्‍ट का पहले ही बायकॉट कर चुके हैं। इस दि‍शा में दोनों देशों के बढ़ते कदमों से झल्‍लाए चीन ने बुधवार को खुले तौर पर भारत और जापान को धमकी दे डाली।




चीन का कहना है – भारत और जापान के इस नए प्रोजेक्‍ट का तब तक ही स्‍वागत है जब तक यह चीन की वन बेल्‍ट वन रोड परि‍योजना के आड़े आने की कोशि‍श नहीं करता। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने (AAGC) की घोषणा की थी। इसका फोकस ज्‍यादातर समुद्री रास्‍तों पर है। चीन के सरकारी अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स के मुताबि‍क, भारत और जापान का वि‍जन इस बात की ओर इशारा कर रहा है कि‍ उनकी योजना चीन की बेल्‍ट एंड रोड प्रोजेक्‍ट (बीएंडआर) के आड़े आएगी और यह वि‍वाद को न्‍योता दे रही है।

अखबार के मुताबि‍क, भारत की इस योजना का असल मकसद कुछ और है। यह कहने की जरूरत नहीं है कि‍ भारत और जापान कनेक्‍टि‍वि‍टी की नई योजना पर पूरी आजादी से आगे बढ़ सकते हैं, कोई उनसे बीएंडआर में शामि‍ल होने के लि‍ए भीख नहीं मांग रहा। अखबार लि‍खता है कि‍ भारत को खासतौर पर इस मामले में संभल कर रहना चाहि‍ए कहीं उनकी योजना का नतीजा कुछ और ही न नि‍कल जाए।




भारत और जापान के इस प्रोजेक्‍ट के पूरा होने बाद दुनि‍या के कई हि‍स्‍सों तक भारत की पहुंच और आसान हो जाएगी। एशि‍या अफ्रीका ग्रोथ कॉरि‍डोर की बदौलत दक्षि‍ण एशि‍या, दक्षि‍ण पूर्व एशि‍या, पूर्व एशि‍या, अफ्रीका, ऑस्‍ट्रेलि‍या, न्‍यूजीलैंड, फि‍जी, पापुआ न्‍यू गि‍नी तक भारत की पहुंच और बेहतर हो जाएगी।

अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगे या इस पोस्ट से सहमत है तो नीचे दिए गए Like बटन से , इस पोस्ट को लाइक करे । धन्यवाद